Phle

24 Jul

आँगन में पहले एक पेड़ लगा लिया जाए
पंछियों को पिंजरों से फिर उड़ा दिया जाए !

फूलों के बारे में कभी सोचेंगे इत्मीनान से
दामन ज़रा काँटों से पहले बचा दिया जाए !

मिट्टी की काया को, मिट्टी में मिल जाना है
पहले इसको प्यार का बुत बना दिया जाए !

वो मनचला पत्थर ज़रूर फेंकेगा कीचड़ में
बारिष से पहले यह पत्थर हटा दिया जाए !

इनकी जड़ों को उखड़ने से पहले जहान में
शाखाओं को दूरदूर तलक फैला दिया जाए !

पहले के गानों में कितनी गहराई होती थी
अब भूले बिसरे गीतों को सुना दिया जाए !

राम रहीम मिलके दोनों सोच रहे ‘मिलन’
पहले आदमी को आदमी बना दिया जाए !!

मिलन “मोनी”

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: