Baki Hai

16 Sep

महफिल में चले आओ, अभी कुछ शाम बाकी है
मेरे प्याले में पीने को, अभी कुछ जाम बाकी है !

मेरे घर का खस्ता हाल न तुम देखना जाकर
बहुत बिखरा हुआ मेरा अभी सामान बाकी है !

अगर वादा नहीं करते, कब का मर गया होता
बस इंतज़ार में तेरे, अभी कुछ सांस बाकी है !

मेरे ज़िंदा रहने की तसल्ली करलो आकर,
यह दिल धड़कने की कुछ आवाज़ बाकी है !

बहुत सुन लिया है आपके बारे में ‘मिलन’,
बस आपसे मिलने का इक अरमान बाकी है !!

मिलन “मोनी”

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: