Archive | May, 2013

Tu Maan Bhi Ja

21 May

तू  मान  भी जा

चांदनी रात में साए तो बहुत देखे हैं,

एक साया है मेरे प्यार का, तू मान भी जा,

बहती नदिया में भवर तो बहुत देखे हैं,

एक भवर है तेरे हुस्न का, तू मान भी जा,

एक साया है मेरे प्यार का, तू मान भी जा |

कुछ हवा ऐसी चल जाए,

जैसा सोचो सच हो जाए,

खाली दिल के अंदर झाकूँ.

और वहां पर तू दिख जाए,

हसीं ख्वाब साथ में तो बहुत देखें है,

दिल के भी कुछ ख्वाब हैं, तू मान भी जा.

एक साया है मेरे प्यार का, तू मान भी जा |

तेरी आदत सी पड जाए,

मेरी साँसों में बस जाए,

चाहता हूँ इस दिल पर,

तेरा जादू सा चल जाए,

जलवे हुस्न के दिन रात बहुत देखें हैं,

एक जादू सा मेरा इश्क है, तू मान भी जा.

एक साया है मेरे प्यार का, तू मान भी जा,

बिन बादल बारिष हो जाए,

बिन चले मंजिल मिल जाए,

दिल की नज़रों से देखो तो,

जो चाहो वह सब दिख जाए,

जाल नशीली आँखों के बहुत देखे हैं,

एक नशा है मोहब्बत का, तू मान भी जा.

एक साया है मेरे प्यार का, तू मान भी जा,

चांदनी रात में साए तो बहुत देखे हैं,

एक साया है मेरे प्यार का, तू मान भी जा |

Advertisements