Hua Nahi Tha

26 Oct

हुआ नहीं था

प्यार किसीसे इतना, जब तक हुआ नहीं था,

दिल बेकरार इतना, तब तक हुआ नहीं था.

रातों मे ख्वाब तेरे अब आ कर जगा रहें हैं,

सपना यह होगा सच्चा, पहले लगा नहीं था.

एक दीवानगी सी जैसे छाने लगी है मुझपर,

मेरा दिल किसी ने ऐसे, पहले छुआ नहीं था.

इन तन्हाइयों मे अक्सर, बातें करीं हैं तुमसे,

नज़रों से तुमने कुछ भी, पहले कहा नहीं था.

हारा हूं आजतक जो, वो लगता है जीत मेरी,

खुशियों का ऐसा मेला, पहले लगा नहीं था.

प्यार किसीसे इतना, जब तक हुआ नहीं था,

दिल बेकरार इतना, तब तक हुआ नहीं था.

मिलन ……..२००४

Advertisements

3 Responses to “Hua Nahi Tha”

  1. neeru October 27, 2012 at 5:54 am #

    Good one

  2. paradox7 November 16, 2012 at 6:27 am #

    Love blosssoming?! Great to read! 😀

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: